Tag: sambhog vashikaran mantra in hindi

Sambhog Ka Tarika

Sambhog Ka Tarika

संभोग का तरीका संभोग(Sexual Intercourse) karne ke tarike, sambhog kaise kiya jata hai,  sambhog संभोग एक उम्र में की जाने वाली ऐसी स्वाभाविक प्रक्रिया जिससे शायद ही कोई व्यक्ति अछूता हो। इंसान तो इंसान पशु-पक्षी भी संभोग के आनंद को भोगते हैं और संतान पैदा करते हैं। यदि संभोग केवल संतान उत्पत्ति के उद्देश्य से किया जाये, …

+ Read More

Sambhog(Sex) Me Stri Ko Santusht Kaise Karen?

Sambhog(Sex) Me Stri Ko Santusht Kaise Karen?

संभोग में स्त्री को संतुष्ट कैसे करें? स्त्री और पुरूष का संभोग में समान रूप से आनंदित होना : संभोग का अर्थ है- वह भोग या आनंद जो दोनों पक्षों(नायक-नायिका) को समान रूप से आये। जहां ऐसा नहीं होता और नायक-नायिका को समान रूप से आनंद नहीं आता है, उसे मैथुन तो कह सकते हैं, …

+ Read More

Jane Kya Hai Sambhog karne Ki Vidhiyan जानें क्या हैं संभोग करने की विधियां

Jane Kya Hai Sambhog karne Ki Vidhiyan जानें क्या हैं संभोग करने की विधियां

Jane Kya Hai Sambhog karne Ki Vidhiyan संभोग मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं- (1.) अनुकूल रति, (2.) विपरीत रति। 1. अनुकूल रति- जब नायक-नायिका आमने-सामने होते हैं, नायिका नीचे उध्र्वमुखी(चेहरा ऊपर की ओर) और ऊपर से नायक अधोमुख(चेहरा नीचे की ओर) होता है। इसी स्थिति में रतिक्रिया जो सम्पादित होती है उसे ‘अनुकूल रति’ …

+ Read More

Surakshit Sambhog Karna Hi Rehta Hai Faydemand सुरक्षित संभोग करना ही रहता है फायदेमंद

Surakshit Sambhog Karna Hi Rehta Hai Faydemand सुरक्षित संभोग करना ही रहता है फायदेमंद

सुरक्षित संभोग- रिश्ते शुरू होते हैं, रिश्ते खत्म हो जाते हैं। लेकिन एक रिश्ता ऐसा होता है, जो वक्त के साथ-साथ और गहरा हो जाता है। वो रिश्ता है प्यार और सम्भोग का रिश्ता। आकर्षण रिश्ते का बीजारोपण तो कर देता है, लेकिन कितनी दूर तक लेकर जाना है, यह आप पर निर्भर करता है …

+ Read More