Sambhog Se Jude 22 Ashcharyajanak Tathya सम्भोग से जुडे़ 22 आश्चर्यजनक तथ्य

Sambhog Se Jude 22 Ashcharyajanak Tathya सम्भोग से जुडे़ 22 आश्चर्यजनक तथ्य

सम्भोग से जुड़े कुछ आश्चर्यजनक तथ्य

सम्भोग को हमेशा से इंसान एक खास संवेदना के रूप में देखता है। गौर करें तो किसी भी व्यक्ति के जीवन की खुशियां बहुत कुछ उसकी सेक्स लाइफ पर ही निर्भर होती हैं।

मगर जीवन का इतना अहम हिस्सा होने के बावजूद इंसान की यह संवेदना हमेशा एक रहस्य का आवरण लिए रहती है। प्राचीन कहावतों पर यकीन करें तो मैथुन को कोई अपने जीवन काल में भी पूरा नहीं समझ सकता, क्योंकि वह ब्रह्मांड की तरह विस्तृत, गहरा और असीम है। प्रत्येक व्यक्ति का यौन अनुभव दूसरे किसी से अलग हो सकता है।

आइए हम आपको सेक्स से जुड़े कुछ आश्चर्यजनक तथ्य बताते हैं, उम्मीद है कि यह आपके लिए दिलचस्प होगा।

Sambhog Se Jude 22 Ashcharyajanak Tathya

1. इंसान और डाल्फिन, विश्व की दो ऐसी प्रजातियां हैं, जो अपने आनंद के लिए मैथुन का सहारा लेती हैं।

2. यदि पूरी दुनियां भर में हो रही सेक्सुअल गतिविधियों पर नज़र डाली जाए तो यह एक दिन में करीब 100 मिलियन बैठती है।

3. पुरुष औसतन प्रत्येक सात सेकेंड में एक बार सेक्स के बारे में सोचते हैं।

4. होमोसेक्सुअलटी इंसानो के साथ-साथ जानवरों और पक्षियों में भी पाई जाती है। जिराफ, चिम्पांजी, टर्की आदि में तो होमोसेक्सुअल्टी एक आम बात है।

5. यौन क्रिया के दौरान महिलाओं के मुकाबले पुरुषों को कहीं ज्यादा पसीना आता है। स्त्रियां की शारीरिक संरचना में बदन से निकलने वाले पानी को नियंत्रित करने की क्षमता होती है।

Sambhog Se Jude 22 Ashcharyajanak Tathya

6. मानव शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा त्वचा है। एक औसत वयस्क के शरीर में इसका वजन 6 पाउंड होता है।

7. आज धड़ल्ले से इस्तेमाल होने वाला कंडोम सन् 1500 में ही अस्तित्व में आ गया था।

8. कंडोम का सबसे दिलचस्प इस्तेमाल द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान देखने में आया था। उस वक्त सिपाही अपनी राइफलों की नली को इससे ढका करते थे, क्योंकि भीतर खारा पानी जाने से वह खराब हो जाती थीं।

9. यौन क्रिया काफी खर्चीली भी है। इस तरह कि एक औसत महिला पूरी तरह से उत्तेजित होकर मैथुन क्रिया करने के दौरान 70 से 120 कैलोरी प्रति घंटे की दर से खर्च करती है और एक पुरुष 77 से 155 कैलोरी।

आप यह आर्टिकल Sambhog.co.in पर पढ़ रहे हैं..

10. शायद आपके लिए यह जानना दिलचस्प हो, कि चुंबन से दंतक्षय की दर को कम किया जा सकता है, क्योंकि अतिरिक्त लार से मुंह साफ रखने में मदद मिलती है। एक मिनट के लिए लिया गया चुंबन शरीर की 26 कैलोरी जला सकता है।

11. किसी व्यक्ति के पूरे जीवन में चुंबन के लिए खर्च किए जाने वाले समय को जोड़ा जाए, तो यह 336 घंटे या 20.160 मिनटों के बराबर बैठता है। यानी कि पूरे जीवन में कुल 14 दिन।

12. सिर्फ नपुंसकता 26 अमेरिकी राज्यों में तलाक के लिए बड़ा आधार है।

Sambhog Se Jude 22 Ashcharyajanak Tathya

13. महिलाओं के लिए सम्भोग एक कारगर दर्द निवारक है, क्योंकि सम्भोग के दौरान शरीर में एंडोमार्फीन का स्राव होता है, जो कि एक शक्तिशाली दर्द निवारक माना जाता है।

14. मनोवैज्ञानिक बताते हैं कि पश्चिमी समाज में पैर, यौन आकर्षण का सबसे प्रमुख केंद्र हैं।

15. गसेक्स में सक्रिय व्यक्ति की दाढ़ी उसकी निष्क्रिय अवस्था में रहने की तुलना में कही ज्यादा तेजी से बढ़ती है।

16. एक स्वस्थ मनुष्य सहवास के दौरान करीब पांच मिलीलीटर वीर्य स्खलित करता है, जिसमें तीस करोड़ से पचास करोड़ तक शुक्राणु मौजूद होते हैं।

17. आमतौर पर संवेदनशील और भावुक महिलाएं सामान्य महिलाओं के मुकाबले मैथुन को अधिक एन्जॉय कर पाती हैं और ऐसी महिलाएं, पुरुषों के मुकाबले अधिक कल्पनाशील होती हैं।

18. एक शोध के मुताबिक जिन लोगों में आत्मविश्वास की कमी होती है, उनके जीवन में सेक्स बहुत महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

19. स्पर्म में पाए जाने वाला प्रोटीन महिलाओं की त्वचा के लिए काफी अच्छा माना जाता है। यह एंटी एजिंग का काफी अच्छा स्रोत माना जाता है। साथ ही इसमें ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो चेहरे की झुर्रियों को दूर करने में मदद करते हैं।

20. अमेरिका में हुए एक शोध से पता चला है कि बीते तीन दशकों में वहां के एक औसत पुरुष की शुक्राणु संख्या में करीब तीस प्रतिशत की गिरावट आई है।

Sambhog Se Jude 22 Ashcharyajanak Tathya

21. सबसे बड़ी सेक्स ओर्जी(सामूहिक सहवास) हर साल बसंत के महीने में कनाडा के मैनिटोबा में घटित होती है, जब 30000 गार्टर स्नेक शीत निंद्रा के बाद मैथुन के लिए इकठ्ठा होते हैं।

22. एक इंसान अपनी पूरी जिन्दगी में लगभग 14 गैलन सीमेन का उत्पादन करता है।

सेक्स से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें..http://chetanonline.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *