Sambhog Karna Kitna Jaruri Hai Insaan Ke Liye?

Sambhog Karna Kitna Jaruri Hai Insaan Ke Liye?

संभोग करना कितना जरूरी है इंसान के लिए?
या फिर
संभोग क्यों करता है मुनष्य?

इंसान के लिए जीवन में संभोग का बहुत बड़ा महत्व है। जैसे भोजन और पानी इंसान की सबसे अनमोल, अहम और प्राथमिक आवश्यकता है, ठीक उसी प्रकार संभोग भी इंसानी जीवन की एक बहुत बड़ी आवश्यकता है।
मनुष्य के लिए संभोग करना परमावश्यक है। सेक्स के अभाव में मनुष्य का जीवन जैसे थम-सा जायेगा और इसके साथ ही इस सृष्टि के पांव भी मानो उखड़ से जायेंगे। सृष्टि भी आगे नहीं बढ़ पायेगी। वैसे भी किसी भी समाज में संभोग को गलत या बुरा नहीं ठहराया गया है। अगर संभोग को दवा की भांति उपयोग में लाया जाये तो यह अतिउत्तम होता है। किन्तु अगर यही व्यक्ति के लिए नशा बन जाये तो, दिक्कतें आनी शुरू हो जात हैं। अति तो किसी भी चीज की नुकसानदायक ही होती है, फिर चाहे वो संभोग ही क्यों न हो।
साथ ही संभोग एक ऐसी प्राकृतिक प्रक्रिया है, जिसे मनुष्य बिना किसी के सिखाये स्वयं ही सीख लेता है।

आप यह आर्टिकल sambhog.co.in पर पढ़ रहे हैं..

तो चलिए एक नज़र डालते हैं कि आखिर इंसान संभोग क्यों करता है?
1. खुद को चुस्त और स्वस्थ रखने के लिए

अगर आप विश्वास करें तो बता दें कि वाकई में संभोग अपने शरीर को स्वस्थ और चुस्त-दुरूस्त रखता है। व्यक्ति एकदम ऊर्जावान बना रहता है। चेहरे पर एक अलग ही कांति व चमक बनी रहती है। संभोग क्रिया-कलाप के दौरान व्यक्ति के शरीर का एक-एक अंग क्रियाशील बना रहता है। कुल मिलाकर संभोग करें और स्वस्थ रहें। मगर अपनी क्षमतानुसार और हद तक।

2. पिता के कर्ज से मुक्त होने के लिए

जब कोई बच्चा जन्म लेता है, तो जन्म लेते ही उस पर अपने पिता का कर्ज चढ़ जाता है। दरअसल शास्त्रों के अनुसार जब पिता अपने बच्चे को जन्म देता है, तो उसी वक्त उस बच्चे पर अपने जन्मदाता पिता का कर्ज चढ़ जाता है। इसी प्रकार आगे क्रम में पित्र कर्ज तभी समाप्त होता है, जब एक बालक जवान होकर संभोग क्रिया से अपने बच्चे को जन्म देता है।

3. अपने साथी के प्रति प्यार दर्शाने हेतु

अक्सर पति-पत्नी आपस में एक-दूसरे के प्रति अपने प्यार को दर्शाने में हिचक व संकोच महसूस करते हैं या फिर उन्हें समय ही नहीं मिल पाता। किन्तु संभोगकाल ही एक ऐसा समय होता है, जब संभोग में मिलने वाले आनंद और आवेश में स्त्री-पुरूष अपने प्यार का इजहार भी कर लेते हैं। अगर सरल भाषा में कहा जाये तो अपने रिश्ते को मजबूत और गहरा बनाना है, तो संभोग करना आवश्यक है।

यह भी पढ़ें- शीघ्रपतन

4. तनाव से दूरी बनाये रखते हेतु

जब व्यक्ति बहुत ज्यादा चिंता या मानसिक तनाव में होता है, तो ऐसे में यदि वह अपनी पत्नी का सानिध्य पा ले या फिर उसके साथ एकांत में संभोग करे, तो संभोग का आनंद उसे सभी तनाव से इतनी दूर ले जाता है, कि वह खुद को चिंतामुक्त और शीतलयुक्त महसूस करने लगता है। वैसे भी चिंता को चिता के समान बताया गया है। इसलिए जब भी मनुष्य अत्यधिक चिंता या तनाव में हो, तो संभोग उसके लिए दवा का काम करता है।

5. कुल(वंश) आगे बढ़ाने के लिए

संभोग स्त्री-पुरूष द्वारा शारीरिक आनंद प्राप्ति के लिए तो किया जाता ही है, वहीं दूसरी ओर अपने वंश व पीढ़ी को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से भी संभोग को प्राथमिकता दी जाती है।

6. संभोग मनोरंजन के उद्देश्य से भी आवश्यक है

Sambhog Karna Kitna Jaruri Hai Insaan Ke Liye?

जी हां, यह एकदम सत्य है कि व्यक्ति अपने को खुश रखने और अपने मनोरंजन के उद्देश्य से भी संभोग करता है। अगर स्त्री-पुरूष एकांत में हों और कोई काम न सूझ रहा हो, तो वह बिना उत्तेजना के भी केवल अपने मनोरंजन हेतु संभोग के लिए उतवाले हो जाते हैं। इसलिए संभोग को मनोरंजन का साधन भी कहा जा सकता है।

Sambhog Karna Kitna Jaruri Hai Insaan Ke Liye?

यह भी पढ़ें- स्वप्नदोष

7. अपनी उत्सुकता और जिज्ञासा को ठंडा करने के लिए

संभोग व सेक्स शुरू से ही स्त्री हो या पुरूष, दोनों के लिए ही बहुत जिज्ञासा का केन्द्र बना रहता है। एक-दूसरे के अंग-प्रत्यंगों को देखने, छूने और जानने के बारे में उत्सुकता रहती है। स्त्री को पुरूष और पुरूष को स्त्री के साथ संभोग करके अपनी जिज्ञासा को शांत करने की तीव्र इच्छा सदैव जवानी में बनी रहती है। इसलिए जब व्यक्ति संभोग कर रहा होता है, तो एक प्रकार से वह अपनी जिज्ञासा की अग्नि को शांत कर रहा होता है।
उपरोक्त बताये गये तर्कों से अब आप भली-भांति जाने गये होंगे कि संभोग कितना जरूरी है इंसान लिए और हम संभोग क्यों करते हैं? ऐसा कहा गया है कि रोटी की भूख तो एक बार को शांत की जा सकती है, किन्तु संभोग की भूख कभी शांत नहीं हो पाती है। उसके लिए संभोग करना ही पड़ता है, इसलिए मनुष्य संभोग करता है और खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ और शांत रखने का प्रयास करता है।

सेक्स समस्या से संबंधित अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें..http://chetanonline.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *