Jane, Sambhog Ke Baad Kya Karen Aur Kya Na Karen जानें, संभोग के बाद क्या करें और क्या न करें

Jane, Sambhog Ke Baad Kya Karen Aur Kya Na Karen जानें, संभोग के बाद क्या करें और क्या न करें

Jane, Sambhog Ke Baad Kya Karen Aur Kya Na Karen

संभोग के बाद करें ये चीजें-

ज्यादातर जोड़े संभोग के बाद आई थकान या आलस्य की वजह से या तो तुरन्त सो जाते हैं या फिर वो कार्य करने लगते हैं, जिन कार्यों के बीच में ही वह सेक्स के लिए आतुर होकर सेक्सरत हो गए थे। सेक्स के तुरन्त बाद आपसी शारीरिक दूरी को न बढ़ाएं।
अगर आप सचमुच चाहते हैं कि आपके पार्टनर को सेक्स में खुशी व संतुष्टी मिले, तो आपको सेक्स के बाद भी कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना होगा।
आइए जानते हैं कि सेक्स के बाद क्या करें और क्या न करें..

http://sambhog.co.in

प्यार भरी मीठी बातें :
मैथुन के दौरान कपल्स में एक अगल ही जोश व जुनून होता है। ऐसा उत्साह और दीवानगी होती है, जोकि मैथुन के बाद भी काफी समय तक दोनों के बीच बनी रहती है। इस समय स्त्री-पुरूष के मन में एक-दूसरे के प्रति ऐसा जुड़ाव होता है, कि जाकि शायद और अन्य समय में नहीं होता। इन्हीं पलों में आप एक-दूसरे से अपनी मन की बात कह सकते हैं, अपनी पसंद नापंसद बता सकते हैं, राज और अपने मन के भाव बता सकते हैं।
एक शोध के अनुसार जो जोड़े मैथुन के बाद ऐसा करते हैं, उनकी सेक्स लाईफ और वैवाहिक जीवन अन्य कपल्स की अपेक्षा ज्यादा बेहतर होती है।

शारीरिक रूप से जुड़े रहें :
आपको चाहिए कि सेक्सक्रीड़ा के बाद भी एक-दूसरे से शारीरिक सम्पर्क बनाये रखें। ये नहीं कि बिस्तर पर पहुंचे, सेक्स किया और मुंह घुमाकर सो गए। ऐसा बिल्कुल न करें। सेक्स के बाद भी आप अपने पार्टनर को प्यार से सहला सकते हैं, हाथों के स्पर्श से उसे प्रेम दे सकते हैं। जरूरी नहीं कि सहलाना और स्पर्श केवल सेक्स के नजरिए से हो, आप उनके बालों को सहला कर या फिर स्नेह भरा हाथ उनके गालों पर भी फिरा सकते हैं।
ऐसा करने से आपके पार्टनर के दिल में आपके लिए और भी ज्यादा इज्जत और प्यार बढ़ेगा। ये सब आपके सच्चे प्यार का सबूत होगा, जो ये साबित करेगा कि आप केवल उनके शरीर से प्रेम करते, बल्कि भावनात्मक रूप से भी उनके बहुत करीब हो।

आप यह आर्टिकल sambhog.co.in पर पढ़ रहे हैं..

एक साथ स्नान या शाॅवर लें :

http://sambhog.co.in

सेक्स कर चुकने के बाद जो अगला कदम होता है, वो है अपने शरीर का साफ-सफाई की। इसके लिए साथ में स्नान करना शारीरिक और मानसिक रूप से बहुत आनंददायक हो सकता है।

साथ में नहाते हुए एक-दूसरे के शरीर पर साबुन लगा कर, हल्क हाथों से मालिश करके सफाई) का प्यार भरा रूप साथ में शावर लेकर दिया जा सकता हैप् एक दूसरे के शरीर पर साबुन लगाकर, हलकी मालिश कर आपस में छोटी-मोटी शारीरिक छेड़छाड़ कर सकते हैं। क्या पता सेक्स के दूसरे दौर का ये सबब बन जाए।

एक साथ कुछ न कुछ करें :
दैहिक मिलन के बाद आप एक-दूसरे से मानसिक और भावानात्मक रूप से काफी जुडे़ होते हो। एक-दूसरे प्रति बहुत प्यार उमड़ रहा होता है, जो आपसी रिश्ते में जोश बनाये रखता। ऐसे समय में आप अगर कुछ खाने की इच्छा है, तो साथ किचन में कुछ नई आसान रेसिपी बना सकते हैं। अपने कमरे और बिस्तर की साफ-सफाई साथ में कर सकते हैं या फिर कोई गाना जो दोनों का पसंदीदा हो, साथ में गुनगुना सकते हैं। बाहर जाने की इच्छा है, तो एक-दूसरे का हाथ पकड़ कर आईसक्रीम का लुत्फ ले सकते हो।
कुल मिलाकर विशेष बात यह है कि दैहिक मिलन के बाद जो भी करें मिलकर करें और प्यार से करें। मैथुन समाप्त हो जाने के बाद एक-दूसरे को यह विश्वास दिलाने का पूरा प्रयास करें कि आपको एक-दूसरे के जनांगों के अलावा भी एक दूसरे में दिलचस्पी है।

एक-दूसरे की प्रशंसा करें :
स्त्री और पुरूष दोनों की मैथुन के दौरान अपने प्रदर्शन को लेकर असमंजस में रहते हैं। उन्हें यह चिंता लगी रहती है कि वे अपने पार्टनर को संतुष्ट कर पायेंगे या नहीं या फिर मैथुन में उनका जा प्रदर्शन था, वो सही था या गलत। इसलिए स्त्री और पुरूष दोनों को चाहिए कि मैथुन के बाद या मैथुन के समय एक-दूसरे की प्रशंसा करतें और ऐसा कहें या बोले जिससे आपको पार्टनर को यह महसूस हो कि आप जो कर रहे हैं, उसमें आपको पूरा आनंद आ रहा है। ऐसा करने से आपका पार्टनर बहुत बेहतर महसूस करेगा और अपनी भरसक कोशिश करेगा कि आप हर हाल में संतुष्ट और खुश हो सकें।
स्त्रियों को भी इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि अगर उन्हें मैथुन के पहले दौर में पुरूष से वो सब नहीं मिला, जिनकी उनको चाहत थी, तो वह अपने चेहरे पर ऐसा भाव बनाये रखें कि पुरूष को लगे कि आप उनसे पूरी तरह संतुष्ट हो चुकी हैं।

ऐसा करने से पुरूष में खुद के प्रति विश्वास बना रहेगा और हो सकता है मैथुन के अगले दौर में आप उनसे पूरी तरह संतुष्ट हो पायें। स्त्रियां खुद को छू सकती हैं। ये भी एक तथ्य है कि बहुत से पुरुष, ऐसी स्त्रियों को जो खुद अपने संवेदनशील अंगों छूती हैं, देखकर बहुत ज्यादा कामुक हो जाते हैं।

संभोग के बाद नहीं करें ये चीजें-

तत्काल सो जाना :
सेक्स करने के बाद अधिकतर पुरुष तुरन्त सो जाते हैं। उन्हें बहुत नींद आने लगती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ओर्गास्म के दौरान ऑक्सीटोसिन हार्मोन का प्रवाह होता है, जिससे नींद आती है।
मगर जो भी पुरूष को पूरा प्रयास करना चाहिए कि सेक्स तुरन्त बाद ना सोयें। ऐसा करना आपके पार्टनर को बुरा महसूस करा सकता है। आप उनकी नजर में स्वार्थी बन सकते हो, कि मतलब निकल गया, तो पहचाने नहीं। ऐसा महसूस न करायें अपने साथी को।
नींद से निबटने के लिए बहुत कारगर उपाय ये है की ओर्गास्म के दौरान में सांस को रोक लेने की बजाए, गहरी सांस लेकर देखिये, अवश्य प्रभाव पड़ेगा। इसके बावजूद भी असर ना हो तो ठन्डे पानी से शावर ले लीजिये।

मोबाइल पर व्यस्त होना :
आज मोबाइल हर व्यक्ति की आदत और कमजोरी बन गई है। हमेशा हाथ में फोन लेकर व्हाट्सअप या फेसबुक आदि सोशियल मीडिया पर बिजी रहते हैं। खाना खाते वक्त, टहलते वक्त, किसी से बात करते वक्त, सड़क क्राॅसिंग करते समय, यहां तक कि कई लोग तो शौचक्रिया के दौरान भी मोबाइल साथ में ही रखते हैं।
इसलिए हो सकता है सेक्स के बाद आपका भी मन करे कि चलो मोबाइल में देखते हैं क्या कुछ नया हुआ, जोकि सही नहीं है। ऐसा करना हो सकता है आपके साथी को ये महसूस कराये कि सेक्सक्रीड़ा तो केवल आपने अपनी शारीरिक जरूर के लिए किया, ध्यान तो आपका मोबाइल पर ही था। ऐसा ना करें, इस दौरान मोबाइल स्विच आॅफ करके अपनी पत्नी को पूरा समय दें। ऐसा करने से दोनों के बीच प्यार और भी बढ़ेगा।

अपने पार्टनर को तुरन्त चले जाने को कहना : 
जब कभी युगल अपने पहले से चले रहे किसी कार्य को रोक कर सेक्स करते हैं, तो अक्सर सेक्स के बाद वह उसी कार्य को पूरा करने में लग जाते हैं और अपने साथी को अनदेखा करके उसे जाने के लिए कह देते हैं, जोकि बिल्कुल गलत है।
ऐसा करना आपके साथी का, उसकी भावनाओं का अपमान करना होगा। अगर सेक्स का ये रिश्ता आपका एक रात ही क्यों नहीं था, तब भी आपको ऐसा नहीं करना चाहिए।

तकिये की बातों का ओवरडोज :
विशेषकर नए रिश्तों में, अगर सेक्स के बाद के ‘पिलो टॉक्स‘ की अति ना करें, बड़े बोल, वादे और भावनाएं ना दिखाएं और चाहे जो भी करें, ‘आई लव यू‘ कहने की जल्दबाजी सिर्फ इसलिए ना करें, क्योंकि आप दोनों ने सेक्स कर लिया है और अब आप ये कहना अपना कर्तव्य समझ रहे हैं।

गंदी बातों को दोहराना :
कई पुरूष या स्त्री सेक्सक्रीड़ा के दौरान इतने आक्रामक और मदहोश जाते हैं, कि वह गंदी बातें करने लगते हैं या फिर कुछ ऐसा अश्लील या गंदी बातें बोल जाते हैं, जो उनकी उत्तेजना को बढ़ा देते हैं। ऐसा करने में उन्हें अधिक आनंद की अनुभूति होती है। जोकि एक तरह से गलत भी नहीं है।
मगर दैहिक मिलन के बाद दोबारा उन गंदी बात का दोहराना शायद आपके साथी की असहज महसूस करा सकता है। इन शब्दों और बातों को दैहिक मिलन के अगले दौर के लिए सुरक्षित रखें।

सेक्स से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें http://chetanonline.com/

Jane, Sambhog Ke Baad Kya Karen Aur Kya Na Karen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *