Sambhog Shakti Badhane Ke Liye Aasan Desi Nuskhe

Sambhog Shakti Badhane Ke Liye Aasan Desi Nuskhe

संभोग शक्ति बढ़ाने के लिए आसान देसी नुस्खे- संभोग किसे कहते हैं? स्त्री और पुरूष के बीच एकांत में किये जाने वाले शारीरिक मिलन को ही सेक्स अथवा संभोग कहा जाता है। इस क्रिया में पुरूष, स्त्री से और स्त्री पुरूष से अपने गुप्तांगों का मिलन करवा कर शारीरिक आनंद प्राप्त करते हैं और अंत …

+ Read More

Stri Ko Sambhog Me Shighra Skhalit Kaise Karen?

Stri Ko Sambhog Me Shighra Skhalit Kaise Karen?

स्त्री को संभोग में शीघ्र स्खलित  कैसे करें? संभोग (Sexual intercourse)- स्त्री-पुरूष दोनों की इच्छा से किया गया संभोग ही आनंददायी होता है। यदि संभोग में स्त्रियों को पहले अथवा अतिशीघ्र स्खलित करने की इच्छा हो तो इसके लिए निम्नलिखित उपायों सेे उन्हें चरमसुख तक पहुंचाया जा सकता है.. 1. कच्चा चैकिया सुहागा एक ग्राम …

+ Read More

Sambhog Shakti Badhane Ke Liye Ayurvedic Upchar

Sambhog Shakti Badhane Ke Liye Ayurvedic Upchar

संभोग शक्ति बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक उपचार- संभोग और इसके मायने- संभोग केवल अपनी काम-उत्तेजना को शांत करने का माध्यम नहीं है। अपितु यह एक ऐसा आनंद और सहयोगिक क्रिया है, जो एक-दूसर के सहयोग से ही संभव है। जिसे काम-भोग में स्त्री और पुरूष दोनों को समान तृप्ति और आनंद मिले उसे ही संभोग …

+ Read More

Sambhog(Sex) Me Stri Ko Santusht Kaise Karen?

Sambhog(Sex) Me Stri Ko Santusht Kaise Karen?

संभोग में स्त्री को संतुष्ट कैसे करें? स्त्री और पुरूष का संभोग में समान रूप से आनंदित होना : संभोग का अर्थ है- वह भोग या आनंद जो दोनों पक्षों(नायक-नायिका) को समान रूप से आये। जहां ऐसा नहीं होता और नायक-नायिका को समान रूप से आनंद नहीं आता है, उसे मैथुन तो कह सकते हैं, …

+ Read More

Sambhog Kriya Me Mastishk Ki Mahatvapurn Bhoomika

Sambhog Kriya Me Mastishk Ki Mahatvapurn Bhoomika

संभोग क्रिया में मस्तिष्क की महत्वपूर्ण भूमिका- संभोग क्रिया में सक्रिय भूमिका अदा करने वाला प्रमुख अंग शिश्न, शिश्न मुण्ड तथा योनि होती है। शिश्न का संचालन एवं नियंत्रण मांसपेशियां एवं तंत्रिकायें करती हैं, ऐसा समझ लेना भारी गलती होगी। कई विद्वान चिकित्सक लिंग पर कई प्रकार के लेप आदि करके लिंग की नपुंसकता का …

+ Read More

Sambhog Ki Vishishat Jaankari Aur 10 Khas Vidhiyan संभोग की विशिष्ट जानकारी और 10 खास विधियां

Sambhog Ki Vishishat Jaankari Aur 10 Khas Vidhiyan संभोग की विशिष्ट जानकारी और 10 खास विधियां

संभोग की विशिष्ट जानकारी संभोग(रति) की मुख्य 3 अवस्थायें होती हैं, जो इस प्रकार है.. 1. संभोग के लिए आमंत्रण या प्रस्ताव। 2. आमंत्रण या प्रस्ताव की स्वीकृति। 3. संभोगरत होना। (क.) संभोग के लिए आमंत्रण- कुछ नायक ‘सेक्स के लिए’ खुले शब्दों में प्रस्ताव रख देते हैं या आमंत्रित कर देते हैं। यह उचित …

+ Read More

Striyon Ki Kamsheelta Aur Sambhog Ke Prati Ghirna स्त्रियों की कामशीलता और संभोग के प्रति घृणा

Striyon Ki Kamsheelta Aur Sambhog Ke Prati Ghirna स्त्रियों की कामशीलता और संभोग के प्रति घृणा

Striyon Ki Kamsheelta Aur Sambhog Ke Prati Ghirna स्त्रियों में कामशीलता- संभोग स्त्री और पुरूष के बीच की वो कड़ी है, वो प्राकृतिक प्रक्रिया है, जो दोनों को ऐसा आनंद प्रदान करती है, कि दोनों ही एक-दूसरे के प्रति दीवाने हो जाते हैं। एक-दूसरे के लिए प्यार में खो जाते हैं। संभोग स्त्री और पुरूष …

+ Read More

Jane Kya Hai Sambhog karne Ki Vidhiyan जानें क्या हैं संभोग करने की विधियां

Jane Kya Hai Sambhog karne Ki Vidhiyan जानें क्या हैं संभोग करने की विधियां

Jane Kya Hai Sambhog karne Ki Vidhiyan संभोग मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं- (1.) अनुकूल रति, (2.) विपरीत रति। 1. अनुकूल रति- जब नायक-नायिका आमने-सामने होते हैं, नायिका नीचे उध्र्वमुखी(चेहरा ऊपर की ओर) और ऊपर से नायक अधोमुख(चेहरा नीचे की ओर) होता है। इसी स्थिति में रतिक्रिया जो सम्पादित होती है उसे ‘अनुकूल रति’ …

+ Read More

Jane Sambhog Aur Sambhog Se Jude Niyam जानें संभोग और संभोग से जुड़े नियम

Jane Sambhog Aur Sambhog Se Jude Niyam जानें संभोग और संभोग से जुड़े नियम

Jane Sambhog Aur Sambhog Se Jude Niyam संभोग क्या है? वैसे देखा जाये, तो स्त्री और पुरूष के बीच गुप्ताआगों के मिलन में मिलने वाले सुख को ही सेक्स कहा जाता है। मगर सही मायनों में विचार किया जाये, तो सेक्स स्त्री और पुरूष दोनों को समान रूप से संतुष्टी प्रदान करने वाला साधन है। …

+ Read More

Sambhog Na Kar Pane Ki Manovaigyanik Chikitsa संभोग न कर पाने की मनोवैज्ञानिक चिकित्सा

Sambhog Na Kar Pane Ki Manovaigyanik Chikitsa संभोग न कर पाने की मनोवैज्ञानिक चिकित्सा

Sambhog Na Kar Pane Ki Manovaigyanik Chikitsa संभोग की मनोवैज्ञानिक चिकित्सा- नपुंसकता और संभोग न कर सकने के रोग का मस्तिष्क और तंत्रिका में गहरा संबंध है। दिमाग में सबसे पहले सेक्स का विचार उत्पन्न होता है, तब मस्तिष्क की मर्दाना जननेन्द्रियों से संबंध रखने वाली तंत्रिका द्वारा उनका प्रभाव मर्दाना जननेन्द्रियों पर पड़कर उनमें …

+ Read More