Aurat Ki Sex Me Iccha Na Hone Ke Karan Kya Hai

Aurat Ki Sex Me Iccha Na Hone Ke Karan Kya Hai

औरत की सेक्स में इच्छा न होने के कारण क्या हैं? स्त्रियों में संभोग की इच्छा न होना, कामेच्छा की कमी- (Female Sexual Dysfunction) आज के समय में 44 प्रतिशत स्त्रियां किसी न किसी रूप में अनेच्छा एवं ‘काम’(संभोग, सेक्स) के प्रति शीतलता का शिकार हैं। स्त्रियों का यह रोग पुरूषों की नपुंसकता से मिलता-जुलता …

+ Read More

Stri Or Purush Ke Liye Sambhog Ke Tips Hindi Me

Stri Or Purush Ke Liye Sambhog Ke Tips Hindi Me

स्त्री और पुरूष के लिए संभोग के टिप्स हिंदी में स्त्री और पुरूष की ‘संभोग-इच्छा’ एक साथ कैसे जागृत हो? यह वाकई एक सोचने की बात है कि ऐसा माहौल या वातावरण कैसे उत्पन्न हो कि अचानक पति-पत्नी या स्त्री-पुरूष को एक साथ उत्तेजना महसूस होने लगे और दोनों संभोग के लिए लालायित हो जायें। …

+ Read More

Sambhog Karna Kitna Jaruri Hai Insaan Ke Liye?

Sambhog Karna Kitna Jaruri Hai Insaan Ke Liye?

संभोग करना कितना जरूरी है इंसान के लिए? या फिर संभोग क्यों करता है मुनष्य? इंसान के लिए जीवन में संभोग का बहुत बड़ा महत्व है। जैसे भोजन और पानी इंसान की सबसे अनमोल, अहम और प्राथमिक आवश्यकता है, ठीक उसी प्रकार संभोग भी इंसानी जीवन की एक बहुत बड़ी आवश्यकता है। मनुष्य के लिए …

+ Read More

Sambhog(Sex) Karne Ka Sahi Tarika Kya Hota Hai

Sambhog(Sex) Karne Ka Sahi Tarika Kya Hota Hai

संभोग करने का सही तरीका क्या होता है? संभोग करने की विधियाँ- (Sexual Intercourse) संभोग से अभिप्राय है कि स्त्री और पुरूष द्वारा ऐसा शारीरिक भोग भोगना, जिसमें दोनों को समान रूप से आनंद प्राप्त हो और समान रूप से ही दोनों संतुष्ट हो जायें। यूं तो संभोग का सीधा और सरल अर्थ होता है कि …

+ Read More

Sambhog Shakti Badhane Ke Liye Aasan Desi Nuskhe

Sambhog Shakti Badhane Ke Liye Aasan Desi Nuskhe

संभोग शक्ति बढ़ाने के लिए आसान देसी नुस्खे- संभोग किसे कहते हैं? स्त्री और पुरूष के बीच एकांत में किये जाने वाले शारीरिक मिलन को ही सेक्स अथवा संभोग कहा जाता है। इस क्रिया में पुरूष, स्त्री से और स्त्री पुरूष से अपने गुप्तांगों का मिलन करवा कर शारीरिक आनंद प्राप्त करते हैं और अंत …

+ Read More

Stri Ko Sambhog Me Shighra Skhalit Kaise Karen?

Stri Ko Sambhog Me Shighra Skhalit Kaise Karen?

स्त्री को संभोग में शीघ्र स्खलित  कैसे करें? संभोग (Sexual intercourse)- स्त्री-पुरूष दोनों की इच्छा से किया गया संभोग ही आनंददायी होता है। यदि संभोग में स्त्रियों को पहले अथवा अतिशीघ्र स्खलित करने की इच्छा हो तो इसके लिए निम्नलिखित उपायों सेे उन्हें चरमसुख तक पहुंचाया जा सकता है.. 1. कच्चा चैकिया सुहागा एक ग्राम …

+ Read More

Sambhog Shakti Badhane Ke Liye Ayurvedic Upchar

Sambhog Shakti Badhane Ke Liye Ayurvedic Upchar

संभोग शक्ति बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक उपचार- संभोग और इसके मायने- संभोग केवल अपनी काम-उत्तेजना को शांत करने का माध्यम नहीं है। अपितु यह एक ऐसा आनंद और सहयोगिक क्रिया है, जो एक-दूसर के सहयोग से ही संभव है। जिसे काम-भोग में स्त्री और पुरूष दोनों को समान तृप्ति और आनंद मिले उसे ही संभोग …

+ Read More

Sambhog(Sex) Me Stri Ko Santusht Kaise Karen?

Sambhog(Sex) Me Stri Ko Santusht Kaise Karen?

संभोग में स्त्री को संतुष्ट कैसे करें? स्त्री और पुरूष का संभोग में समान रूप से आनंदित होना : संभोग का अर्थ है- वह भोग या आनंद जो दोनों पक्षों(नायक-नायिका) को समान रूप से आये। जहां ऐसा नहीं होता और नायक-नायिका को समान रूप से आनंद नहीं आता है, उसे मैथुन तो कह सकते हैं, …

+ Read More

Sambhog Kriya Me Mastishk Ki Mahatvapurn Bhoomika

Sambhog Kriya Me Mastishk Ki Mahatvapurn Bhoomika

संभोग क्रिया में मस्तिष्क की महत्वपूर्ण भूमिका- संभोग क्रिया में सक्रिय भूमिका अदा करने वाला प्रमुख अंग शिश्न, शिश्न मुण्ड तथा योनि होती है। शिश्न का संचालन एवं नियंत्रण मांसपेशियां एवं तंत्रिकायें करती हैं, ऐसा समझ लेना भारी गलती होगी। कई विद्वान चिकित्सक लिंग पर कई प्रकार के लेप आदि करके लिंग की नपुंसकता का …

+ Read More

Sambhog Ki Vishishat Jaankari Aur 10 Khas Vidhiyan संभोग की विशिष्ट जानकारी और 10 खास विधियां

Sambhog Ki Vishishat Jaankari Aur 10 Khas Vidhiyan संभोग की विशिष्ट जानकारी और 10 खास विधियां

संभोग की विशिष्ट जानकारी संभोग(रति) की मुख्य 3 अवस्थायें होती हैं, जो इस प्रकार है.. 1. संभोग के लिए आमंत्रण या प्रस्ताव। 2. आमंत्रण या प्रस्ताव की स्वीकृति। 3. संभोगरत होना। (क.) संभोग के लिए आमंत्रण- कुछ नायक ‘सेक्स के लिए’ खुले शब्दों में प्रस्ताव रख देते हैं या आमंत्रित कर देते हैं। यह उचित …

+ Read More